आरती साहा का जीवन परिचय | Biography of Aarti Saha in Hindi

इंग्लिश चैनल पार करने वाली प्रथम भारतीय महिला तैराक: आरती साहा का जीवन परिचय

आरती साहा का जीवन परिचय: (Biography of Aarti Saha in Hindi)

आरती साहा एक भारतीय तैराक थी। सचिन नाग ने उनकी इस प्रतिभा को पहचाना और उसे तराशने का कार्य शुरु किया। 1949 में आरती ने अखिल भारतीय रिकार्ड सहित राज्यस्तरीय तैराकी प्रतियोगिताओं को जीता। उन्होंने 1952 में हेलसिंकी ओलंपिक में भी भाग लिया था।

Quick Info about First Indian Woman swimmer to cross the English Channel:

नाम आरती साहा
जन्म तिथि 24 सितम्बर 1940
जन्म स्थान कोलकाता, (भारत)
निधन तिथि 23 अगस्त 1994
उपलब्धि इंग्लिश चैनल पार करने वाली प्रथम भारतीय महिला तैराक
उपलब्धि वर्ष 1959

आरती साहा से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्य: (Important Facts Related to Aarti Saha)

  • आरती साहा का पूरा नाम आरती साहा गुप्ता है।
  • आरती साहा का जन्म 24 सितम्बर 1940 को पश्चिम बंगाल के कोलकाता शहर में हुआ था।
  • उनके पिता का नाम पंचुगोपाल साहा था।
  • भारतीय तैराक मिहिर सेन से प्रेरित होकर उन्होंने इंग्लिश चैनल को पार करने का साहस किया था।
  • उन्होंने साल 1945 और 1951 के बीच पश्चिम बंगाल में 22 राज्य स्तर की प्रतियोगिता जीतीं थीं।
  • उनकी मुख्य घटनाएं 100 मीटर फ्रीस्टाइल, 100 मीटर स्तन स्ट्रोक और 200 मीटर स्तन स्ट्रोक थीं।
  • 1951 में पश्चिम बंगाल की राज्य बैठक में, उन्होंने 100 मीटर स्तन स्ट्रोक में 1 मिनट 37.6 सेकंड का समय लगा और डॉली नजीर का अखिल भारतीय रिकॉर्ड तोड़ दिया था।
  • भारत सरकार द्वारा साल 1960 में उन्हें ‘पद्म श्री’ पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया था।
  • भारतीय डाक विभाग द्वारा साल 1998 में विभिन्न क्षेत्रों में महत्वपूर्ण उपलब्धियाँ हासिल करने वाली भारतीय महिलाओं की स्मृति में जारी डाक टिकटों के समूह में आरती शाहा पर भी एक टिकट जारी किया गया था।
  • 23 अगस्त 1994 को उनका निधन पीलिया के कारण हो गया।

 

(Visited 108 times, 1 visits today)

Like this Article? Subscribe to feed now!

Leave a Reply

Scroll to top