क्रान्तिकारी बिपिन चंद्र पाल का जीवन परिचय


Famous People: Bipin Chandra Pal Biography [ID: 13132]



बिपिन चंद्र पाल का जीवन परिचय: (Biography of Bipin Chandra Pal in Hindi)

बिपिन चंद्र पाल का नाम भारत के स्वाधीनता संग्राम के इतिहास में ‘क्रान्तिकारी विचारों के जनक’ के रूप में आता है, जो अंग्रेज़ों की चूलें हिला देने वाली ‘लाल’ ‘बाल’ ‘पाल’ तिकड़ी का एक हिस्सा थे।

Quick Info About Bipin Chandra Pal in Hindi:

नाम बिपिन चंद्र पाल
जन्म तिथि 07 नवंबर 1858
जन्म स्थान हबीबगंज ज़िला
निधन तिथि 20 मई 1932
उपलब्धि ‘न्यू इंडिया’ नामक अंग्रेजी पत्रिका के संपादक
उपलब्धि वर्ष 1905

बिपिन चंद्र पाल से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्य: (Important Facts Related to Bipin Chandra Pal)

  • बिपिन चंद्र पाल का जन्म 7 नवम्बर 1858 को बंगाल में हबीबगंज ज़िले के पोइल गाँव (वर्तमान बांग्लादेश) में हुआ था।
  • इनके माता-पिता का नाम नारायनीदेवी तथा रामचंद्र था।
  • उन्होंने अपनी प्रारंभिक शिक्षा चर्च मिशन सोसाइटी कॉलेज से पूर्ण की थी।
  • इन्होने एक विधवा से विवाह किया था जो उस समय दुर्लभ बात थी।
  • केशवचंद्र सेन, शिवनाथ शास्त्री जैसे नेताओं से प्रभावित पाल को अरविन्द के खिलाफ गवाही देने से इंकार करने पर छह महीने की सजा हुई थी।
  • लाल-बाल-पाल की तिकड़ी में पाल, बिपिन चन्द्र पाल ही थे।
  • बिपिन चन्द्र पाल भारत में “क्रन्तिकारी विचारो के जनक” के नाम से जाने जाते थे।
  • बिपिन चन्द्र पाल ने अपने साथियों के साथ मिलकर ब्रिटिश राज को खत्म करने का बीड़ा उठा लिया था।
  • 1876 मे शिवनाथ शास्त्रीने पाल इनको ब्राम्हण समाज की दिक्षा दी थी।
  • 20 मई, 1932 में इनका निधन हो गया।
जांचें कि आपने ऊपर क्या पढ़ा? प्रश्नोत्तरी:

किस सन में शिवनाथ शास्त्रीने पाल इनको ब्राम्हण समाज की दिक्षा दी थी?

Correct
Incorrect

बिपिन चन्द्र पाल भारत में किस के नाम से जाने जाते थे?

Correct
Incorrect

Like this Article? Subscribe to Our Feed!

Leave a Reply

Your email address will not be published.