तात्या टोपे का जीवन परिचय – Tatya Tope Biography in Hindi

तात्या टोपे का जीवन परिचय: (Biography of Tatya Tope in Hindi)

तात्या टोपे को सन 1857 के ‘प्रथम स्वतन्त्रता संग्राम’ के अग्रणीय वीरों में उच्च स्थान प्राप्त है। इन्होने कई जगहों पर अपने सैनिक अभियानों द्वारा उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, राजस्थान और गुजरात आदि में अंग्रेज़ी सेनाओं से कड़ी टक्कर ली थी और उन्हें बुरी तरह परेशान कर दिया था।

तात्या टोपे के जीवन परिचय का संक्षिप्त विवरण:

नाम तात्या टोपे
जन्म तिथि 1814
जन्म स्थान पटौदा जिला, महाराष्ट्र, (भारत)
निधन तिथि 18 अप्रैल 1859
उपलब्धि ‘प्रथम स्वतन्त्रता संग्राम’ के सेनानी
उपलब्धि वर्ष 1857

तात्या टोपे से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्य (Important Facts Related to Tatya Tope)

  1. तात्या टोपे 1857 के विद्रोह के एक महत्वपूर्ण सेनानी थे।
  2. तात्या का वास्तविक नाम ‘रामचंद्र पांडुरंग येवलकर’ था।
  3. इनके पिता का नाम पांडुरंग भट्ट और माता का नाम रुक्मिनी बाई था।
  4. इनके पिता पेशवा बाजीराव द्वितीय के गृह-विभाग का काम देखते थे।
  5. 03 जून 1858 में रावसाहेब पेशवा ने तात्या को सेनापति के रूप में शामिल किया।
  6. 07 अप्रैल 1859 को तात्या टोपे को शिवपुरी के जंगलों में सोते हुए पकड़ लिया गया अंग्रेज सरकार द्वारा उन पर मुकदमा चलाया गया था।
  7. सन 1857 के प्रथम स्वतन्त्रता संग्राम के विस्फोट होने पर तात्या टोपे भी समरांगण में कूद पड़े थे।
  8. तात्या के बारे में कहा जाता है कि अंग्रेज़ों ने तात्या के साथ धोखा करके उन्हें पकड़ा था।
  9. 15 अप्रैल 1859 को तात्या टोपे को फांसी की सज़ा सुनाई गयी थी।
  10. 18 अप्रैल 1859 को तात्या को ग्वालियर के पास शिर्पी दुर्ग के पास फांसी दे दी गयी थी।
(Visited 6 times, 1 visits today)

Like this Article? Subscribe to Our Feed!

Leave a Reply

Your email address will not be published.