भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के प्रथम अध्यक्ष: व्योमेश चन्द्र बनर्जी का जीवन परिचय

Famous People: Womesh Chunder Bonnerjee Biography

व्योमेश चन्द्र बनर्जी का जीवन परिचय (Biography of Womesh Chunder Bonnerjee in Hindi)

व्योमेश चन्द्र बनर्जी एक प्रसिद्ध भारतीय बैरिस्टर एवं भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के प्रथम अध्यक्ष थे। वह कोलकाता उच्च न्यायालय के प्रमुख वक़ील थे। ये भारत में अंग्रेज़ी शासन से प्रभावित थे और उसे देश के लिये अच्छा मानते थे।

संक्षिप्त विवरण (Quick Info):

नाम व्योमेश चन्द्र बनर्जी
जन्म तिथि 29 दिसम्बर 1844
जन्म स्थान कलकत्ता (वर्तमान कोलकाता), भारत
निधन तिथि 21 जुलाई 1906
उपलब्धि भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के प्रथम अध्यक्ष
उपलब्धि वर्ष 1885

व्योमेश चन्द्र बनर्जी से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्य: (Important Facts Related to Womesh Chunder Bonnerjee)

  1. व्योमेश चन्द्र बनर्जी का जन्म एक उच्च मध्यम वर्ग के कुलीन ब्राह्मण परिवार में 29 दिसम्बर 1844 को सोनई, कलकत्ता में हुआ था।
  2. उनके पिता का नाम गिरीश चंद्र बैनर्जी था।
  3. उन्होंने कलकत्ता में ओरिएंटल सेमिनरी और हिन्दू स्कूल से शिक्षा ग्रहण की। वर्ष 1864 में मुंबई में आर॰जे॰ जीजीभाई से छात्रवृत्ति मिलने के बाद वह कानून की पढाई करने के लिए इंग्लैण्ड चले गए।
  4. वर्ष 1859 में उनका विवाह हेमांगिनी मोतीलाल के साथ हुआ था।
  5. व्योमेश बनर्जी अंग्रेज़ी चाल-ढाल के इतने कट्टर अनुयायी थे, कि इन्होंने स्वयं अपने पारिवारिक नाम ‘बनर्जी’ का अंग्रेज़ीकरण करके उसे ‘बोनर्जी’ कर दिया था।
  6. सन् 1865 में दादाभाई नौरोजी ने लंदन भारतीय समाज की स्थापना की और व्योमेश चन्द्र बनर्जी को इसका महासचिव बनाया गया।
  7. वर्ष 1885 में बम्बई में हुए अधिवेशन में उन्हें ‘भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस’ का प्रथम अध्यक्ष चुना गया था। यह सत्र 28 दिसम्बर से 31 दिसम्बर तक चला था और 72 सदस्यों ने इसमें भाग लिया था।
  8. ब्रिटेन के हाउस ऑफ कॉमन्स के लिये चुनाव लड़ने वाले वे प्रथम भारतीय थे (किन्तु वे जीत नहीं पाये)।
  9. सन् 1901 में वे कलकत्ता बार से सेवानिवृत्त होने के बाद वह लंदन (इंग्लैंड) में जाकर बस गये।
  10. व्योमेश चन्द्र बनर्जी की मृत्यु 21 जुलाई 1906 को इंग्लैंड में ही हुई थी।

सामान्य ज्ञान अपनी ईमेल पर पाएं!

Comments are closed