फिलीपींस देश का इतिहास, भूगोल, अर्थव्यवस्था तथा महत्वपूर्ण घटनाएं

विश्व के भूगोल में फिलीपींस देश का एक अलग ही स्थान है| इस देश में कई ऐसी बातें है जो इस देश को अन्य देशों से अलग करती है जैसे की भाषा, रहन सहन, वेश-भूषा, संस्कृति, धर्म, व्यवसाय| आइये जानते है फिलीपींस (Philippines) देश से जुड़े कुछ ऐसे अनोखे तथ्य तथा इतिहास से जुड़ी महत्वपूर्ण घटनाओं के बारे में, जिन्हें जानकर आपका ज्ञान बढ़ेगा|

फिलीपींस देश की संक्षिप्त जानकारी

देश का नामफिलीपींस
देश की राजधानीमनिला
देश की मुद्रापेसो
महाद्वीप का नामAsia
देश के राष्ट्रपिता/संस्थापकEmilio Aguinaldo, Andrés Bonifacio

Read Also: देश का नाम, उनकी राजधानी तथा मुद्रा की सूची

मानव जीवाश्म का मिलना यह बताता है कि फ़िलीपीन्स में हजारों साल पूर्व इंसान बसते थे। 8वीं शताब्दी में चीनी व्यापारियों का आगमन हुआ। शक्तिशाली बौद्ध साम्राज्यों के उदय के कारण इण्डोनेशिया द्वीप समूह, भारत, जापान और दक्षिण-पूर्व एशिया के साथ व्यापार शुरू हुआ। 16वीं शताब्दी में स्पैनिश लोगों ने इस द्वीप पर दावा किया और इसे बसाया। उन्होंने इसका नाम राजा फिलिपे द्वितीय के नाम पर 'फ़िलिपिनस' रखा। रोमन कैथोलिक धर्म का भी तुरंत प्रचार किया जाने लगा। वर्ष, 1898 में, स्पैनिश-अमेरिकन युद्ध छिड़ गया, जिसमें स्पेन ने संयुक्त राज्य अमेरिका को फ़िलीपीन्स 2 करोड़ यू.एस.डॉलर में दे दिया| हालाँकि, फ़िलीपीन्स ने उसी वर्ष अपनी स्वतंत्रता घोषित कर दी, पर संयुक्त राज्य अमेरिका अपना दावा जताता रहा, इस कारण फिलिपीन-अमेरिकन युद्ध छिड़ा। जिसके बाद वर्ष 1914 में, भविष्य में स्वतंत्रता देने के वादे के बाद हालत कुछ ठीक हुए। 1935 में, फ़िलीपीन्स को अमेरिकी राष्ट्रमंडल का दर्जा दे दिया गया, जिससे इसे अधिक स्वायत्तता मिल गयी। अंततः4 जुलाई 1946 में द्वितीय विश्वयुद्ध के बाद इसे पूर्ण स्वतंत्रता मिल गयी।
फ़िलीपीन्स एक द्वीपसमूह है, जिसमें 7,107 द्वीप हैं। इसका कुल भू क्षेत्रफल, अंतर्देशीय जल निकाय मिलाकर, लगभग 3,00,000 वर्ग किलोमीटर है। इसकी 36,289 कि॰मी॰ लंबी तटरेखा के कारण, यह विश्व का पांचवां सबसे लंबी तट रेखा वाला देश है। अधिकतर पहाड़ी द्वीप ज्वालामुखीय मूल के हैं और उष्णकटिबंधीय वर्षावनों से ढंकें हुए हैं। सबसे ऊँची चोटी माउंट आपो है। यह समुद्र तल से 2,954 मी. ऊपर है। कैगयान नदी फ़िलीपीन्स की सबसे बड़ी नदी है।
फ़िलीपीन्स की राष्ट्रीय अर्थव्यवस्था दुनिया की 29वीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है। 2018 में फ़िलीपीन्स का सकल घरेलू उत्पाद $354 बिलियन है। फ़िलीपीन्स के प्राथमिक निर्यात हैं: सूचालक पदार्थ, इलेक्ट्रोनिक उत्पाद, कपड़े, तांबे के उत्पाद, पेट्रोलियम पदार्थ, नारियल तेल, फल एवं मोबाइल कम्पयुटर और मोबाइल कम्पयुटर में लगने वाली चिप है। फिलीपींस के नागरिक हार्ड डिस्क बनाने में भी माहिर हैं। और फिलीपींस से इन चीजों का संयुक्त राज्य अमेरिका, जापान, चीन, सिंगापुर, नीदरलैंड, दक्षिण कोरिया, हांगकांग, जर्मनी, ताईवान आदि देशों में आयात निर्यात होता है। फिलीपींस दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था है और फिलीपींस का ग्रोथ रेट 8.8% है ।
ऍथनोलॉग के अनुसार फ़िलीपीन्स में १७५ भाषाएँ हैं, जिनमें से १७१ भाषाएँ जीवित हैं और अन्य 4 भाषाओं को बोलने वाले लोग नहीं बचे| ये भाषाएँ ऑस्ट्रोनेशियाई भाषा परिवार की सदस्य हैं। 1989 के, फिलिपिनो संविधान के अनुसार फ़िलिपीनो और इंग्लिश राजभाषा हैं। फ़िलिपीनो टागालोग भाषा का प्रचलित रूप है, जो मुख्यतः मेट्रो मनीला एवं अन्य शहरी क्षेत्रों में बोली जाती है।
  • फिलीपींस जिसे आधिकारिक तौर फिलीपीन्स गणतंत्र कहा जाता है एशिया के दक्षिण-पूर्व में स्थित एक द्वीपसमूह देश है।
  • फिलीपींस का नाम स्पेन के राजा फिलिप द्वितीय के नाम पर रखा गया था।
  • फिलीपींस ने 4 जुलाई 1946 में संयुक्त अमेरिका से स्वतंत्रता हासिल की थी।
  • फिलीपींस का कुल क्षेत्रफल 343,448 वर्ग कि.मी. (132,606 वर्ग मील) है।
  • फिलीपींस की आधिकारिक भाषाएं फिलिपिनो और अंग्रेजी है।
  • फिलीपींस की मुद्रा का नाम पेसो है।
  • विश्व बैंक के अनुसार 2016 में फिलीपींस की कुल जनसंख्या 10.33 करोड़ थी।
  • फिलीपींस में अधिकत्तर लोगो का धर्म ईसाई हैं।
  • फिलीपींस में सबसे महत्वपूर्ण जातीयसमूह विसायन, तागालोग और इलोकानो है।
  • फिलीपींस में एक उष्णकटिबंधीय समुद्री जलवायु है जो आमतौर पर गर्म और आर्द्र होती है।
  • फिलीपींस का सबसे ऊँचा पर्वत माउंट अपो (Mount Apo) है, जिसकी ऊंचाई 9,692 मीटर है।
  • फिलीपींस की सबसे लंबी नदी कागायन नदी (Cagayan River) है, जिसकी लंबाई 350 कि.मी है।
  • फिलीपींस की सबसे बड़ी झील लागुना डी बे (Laguna de Bay) है जो 911.7 वर्ग कि.मी. के क्षेत्रफल में फैली है।
  • फिलीपींस के सैन फर्नांडो में 24 दिसंबर, 2002 को दुनिया का सबसे बड़ा क्रिसमस लालटेन बनाया गया था जिसमे पांच मिलियन फिलीपीन पेसोस की लागत आई थी।
  • 17 नवम्बर 1405 - सुलु की सल्तनत फिलीपींस में मिंडानाओ के तट सुलु द्वीपसमूह पर स्थापित की गई थी।
  • 19 मई 1571 - मिग्यूल लोपेज डी जगाज्पी ने फिलीपींस की राजधानी मनीला की स्थापना की।
  • 24 जून 1571 - मिगुएल लोप्स डी लेगाज़ीपी ने फिलीपींस गणराज्य की राजधानी मनीला की स्थापना की। मिगुएल लोपेज़ डी लेगाज़ी, जिसे एल अडेलेंटैडो और एल वीजो के नाम से भी जाना जाता है, एक बास्क स्पेनिश नाविक और गवर्नर थे, जिन्होंने ईस्ट इंडीज में पहली स्पेनिश बस्ती की स्थापना की थी, जब उनका अभियान आधुनिक स्पेन में न्यू स्पेन के वायसरायल्टी से प्रशांत महासागर को पार कर गया था। और 1565 में फिलीपीन द्वीप पर सेबू की स्थापना की।
  • 24 जून 1571 - स्पेनिश विजेता, मिगुएल लोपेज़ डी लेगाज़पी ने मनीला शहर को नियंत्रित करने के लिए एकसिंगल की स्थापना की, जो अब फिलीपींस की राजधानी है।
  • 11 जून 1594 - फिलीपींस में, स्पेन के फिलिप द्वितीय ने प्रिंसिपलिया के स्थानीय संगठन, और रोमन कैथोलिक धर्म के प्रमुखों के प्रधान अधिकार को मान्यता दी।
  • 19 जनवरी 1607 - फिलीपींस के सबसे पुराने चर्च मनीला में सैन अगस्टिन चर्च पूरा हो गया।
  • 24 जनवरी 1744 - फिलीपींस में दगोहॉय विद्रोह जीयुसेप लैम्बरटी की हत्या के साथ शुरू हुआ।
  • 30 जून 1755 - फिलीपींस ने सभी गैर कैथोलिक चीनी रेस्तरां को बंद करवाया।
  • 06 अक्टूबर 1762 - ब्रिटिश सैनिकों ने मनीला, फिलीपींस पर कब्जा कर लिया।
  • 01 फरवरी 1814 - फिलीपींस में मेयॉन ज्वालामुखी फटने से करीब 1,200 लोगों की मौत हुई।
Brunei [M] , China [M] , Indonesia [M] , Japan [M] , Malaysia [M] , Palau [M] , Taiwan [M] , Vietnam [M] ,
अंतरराष्ट्रीय सीमा की परिभाषा: L = Land Border (भूमि सीमा)| M = Maritime Border (समुद्री सीमा)

📅 Last update : 2018-08-15 13:51:11