तुर्कमेनिस्तान देश का इतिहास, भूगोल, अर्थव्यवस्था तथा महत्वपूर्ण घटनाएं

✅ Published on August 23rd, 2020 in एशिया महाद्वीप, देशों की जानकारी

विश्व के भूगोल में तुर्कमेनिस्तान देश का एक अलग ही स्थान है| इस देश में कई ऐसी बातें है जो इस देश को अन्य देशों से अलग करती है जैसे की भाषा, रहन सहन, वेश-भूषा, संस्कृति, धर्म, व्यवसाय| आइये जानते है तुर्कमेनिस्तान(Turkmenistan) देश से जुड़े कुछ ऐसे अनोखे तथ्य तथा इतिहास से जुड़ी महत्वपूर्ण घटनाओं के बारे में, जिन्हें जानकर आपका ज्ञान बढ़ेगा|

तुर्कमेनिस्तान देश की संक्षिप्त जानकारी

देश का नामतुर्कमेनिस्तान
देश की राजधानीअश्गाबात
देश की मुद्रातुर्कमेन न्यू मानत
महाद्वीप का नामAsia

Read Also: देश का नाम, उनकी राजधानी तथा मुद्रा की सूची

तुर्कमेनिस्तान सदियों से सभ्यताओं के चौराहे पर रहा है; मर्व मध्य एशिया के सबसे पुराने नगरों में से एक है और कभी दुनिया का सबसे बड़ा शहर था। मध्यकाल में, मर्व इस्लामी दुनिया के महान शहरों में से एक था और सिल्क रोड पर एक महत्वपूर्ण पड़ाव था। 1881 में रूसी साम्राज्य द्वारा संलग्न, तुर्कमेनिस्तान बाद में मध्य एशिया में बोल्शेविक विरोधी आंदोलन में प्रमुखता से उभरा। 1925 में, तुर्कमेनिस्तान सोवियत संघ का एक घटक गणराज्य बन गया, 1991 में सोवियत संघ के विघटन के बाद तुर्कमेन सोवियत समाजवादी गणराज्य यह स्वतंत्र हो गया।
तुर्कमेनिस्तान का धरातल बहुत ही विषम है। यहाँ पर पर्वत, पठार, मरूस्थल एवं मैदान सभी मिलते हैं परन्तु समुद्र से दूर होने के कारण यहाँ की जलवायु पर महाद्वीपीय प्रभाव है। पशु-पालन यहाँ का प्रधान व्यवसाय है। तुर्कमेनिस्तान में वर्षा की कमी के कारण प्राकृतिक वनस्पति की कमी है। तुर्कमेनिस्तान के 70% क्षेत्रफल पर काराकुम रेगिस्तान फैला हुआ है। मरुस्थलीय भूमि की अधिकता होने के कारण यहाँ के अधिकांश भागों में शुष्क मरुस्थलीय कँटीली झाड़ियाँ मिलती हैं। उपोष्णकटिबंधीय तापमान पर्वतमाला और थोड़ी बारिश के साथ जलवायु ज्यादातर शुष्क रेगिस्तान है। जनवरी और मई के बीच अधिकांश वर्षा के साथ सर्दियाँ हल्की और शुष्क होती हैं। सबसे भारी वर्षा वाला देश का क्षेत्र कोपेट डेग रेंज है।
देश में प्राकृतिक गैस और पर्याप्त तेल संसाधनों का चौथा सबसे बड़ा भंडार है। तुर्कमेनिस्तान ने अपनी अर्थव्यवस्था को बनाए रखने के लिए गैस और कपास की बिक्री का उपयोग करने की उम्मीद करते हुए, आर्थिक सुधार के लिए एक सतर्क दृष्टिकोण अपनाया है। 2014 में, बेरोजगारी दर 11% होने का अनुमान लगाया गया था तुर्कमेनिस्तान का ज्यादातर तेल तुर्कमेनिस्तान स्टेट कंपनी के कोट्टर्डपे, बाल्कनबात, और चेलेकेन के कैस्पियन सागर के पास के खेतों से निकाला जाता है, जिसमें 700 मिलियन टन का अनुमानित अनुमानित भंडार होता है। तेल निष्कर्षण उद्योग 1909 में चेलेकेन (ब्रानोबेल द्वारा) और 1930 के दशक में बाल्कनबात में खेतों के दोहन के साथ शुरू हुआ। उत्पादन 1948 में कुमदाग क्षेत्र और 1959 में कोटरडेप क्षेत्र की खोज के साथ आगे बढ़ा। तुर्कमेनिस्तान में उत्पादित तेल का एक बड़ा हिस्सा तुर्कमेनिषी और सीदी रिफाइनरियों में परिशोधित है। इसके अलावा, कैस्पियन सागर के माध्यम से यूरोप तक नहरों के माध्यम से तेल का निर्यात किया जाता है।
तुर्कमेनिस्तान तुर्कमेनिस्तान की आधिकारिक भाषा है (1992 के संविधान के अनुसार), हालांकि रूसी अभी भी शहरों में "अंतर-जातीय संचार की भाषा" के रूप में व्यापक रूप से बोली जाती है।
  • तुर्कमेनिस्तान को 1991 से पहले आधिकारिक तौर पर तुर्कमेनिस्तान ही कहा जाता है जो एशिया के बीच में स्थित एक तुर्किक देश है।
  • तुर्कमेनिस्तान की सीमाएं उत्तर पूर्व में उज़्बेकिस्तान से, उत्तर पश्चिम में कज़ाख़िस्तान से, दक्षिण पूर्व में अफ़ग़ानिस्तान से, दक्षिण पश्चिम में ईरान से और पश्चिम में कैस्पियन सागर से लगती है।
  • तुर्कमेनिस्तान ने 27 अक्टूबर 1991 में सोवियत संघ से स्वतंत्रता हासिल की थी उस समय इसे तुर्कमेन सोवियत समाजवादी गणराज्य कहते थे।
  • तुर्कमेनिस्तान का कुल क्षेत्रफल 491,210 वर्ग कि.मी. (189,660 वर्ग मील) है।
  • तुर्कमेनिस्तान की आधिकारिक भाषा तुक्रमेन है।
  • तुर्कमेनिस्तान की मुद्रा का नाम तुर्कमेन न्यू मानत है।
  • विश्व बैंक के अनुसार 2016 में तुर्कमेनिस्तान की कुल जनसंख्या 56.6 लाख थी।
  • तुर्कमेनिस्तान में अधिकत्तर लोगो का धर्म रूढ़िवादी ईसाई धर्म है।
  • तुर्कमेनिस्तान में सबसे महत्वपूर्ण जातीयसमूह तुर्कमेनिस्तानी, उज़्बेक और रूसी है।
  • तुर्कमेनिस्तान का सबसे ऊँचा पर्वत अयरयबाबा (Aýrybaba) है, जिसकी ऊंचाई 3,138 मीटर है।
  • तुर्कमेनिस्तान का लगभग 80% कराकुम काले रेत वाले रेगिस्तान से ढका हुआ है।
  • तुर्कमेनिस्तान में लगभग 9 0% श्रमिक सरकार द्वारा नियोजित हैं।
  • तुर्कमेनिस्तान के नागरिकों को 1993 से नि: शुल्क बिजली, पानी और प्राकृतिक गैस सरकार द्वारा प्रदान की गई है जिसे 2030 तक चलाया जायेगा।
  • 05 अक्टूबर 1948 - तुर्कमेनिस्तान की राजधानी अश्क़ाबात में भूकंप से 110,000 लोगों की मौत हुई।
  • 9 दिसम्बर 2006 - तुर्कमेनिस्तान में "द वर्ल्ड ऑफ तुर्कमेनबाशी टेल्स" थीम पार्क को खोले जाने के 2 महीने बाद बनाया गया है। पार्क में अब और अधिक बच्चों को मोहित करने का अनुमान है कि सवारी काम करती है।
Ashgabat, Turkmenbasy, Tejen, Gyzlarbat, Buzmeyin, Kaka, Atamyrat, Koneurgench, Turkmenabat, Dasoguz, Mary, Celeken, Balkanabat, Anew,
Afghanistan [L] , Azerbaijan [M] , Iran [LM] , Kazakhstan [LM] , Uzbekistan [L] ,
अंतरराष्ट्रीय सीमा की परिभाषा: L = Land Border (भूमि सीमा)| M = Maritime Border (समुद्री सीमा)

📊 This topic has been read 70 times.

« Previous
Next »