समसामयिकी घटना चक्र हिंदी में: (Current Affairs in Hindi) इस अध्याय में आगामी प्रतियोगी परीक्षाओं के दृष्टिकोण से भारत एवं विश्व पर आधारित नवीनतम समसामयिकी घटनाक्रम की जा प्राप्त कर सकते है।

इसरो ने PSLV-C58 के POEM3 प्लेटफॉर्म पर ईंधन सेल का सफलतापूर्वक परीक्षण किया (ISRO Successfully Tests Fuel Cell on POEM3 Platform of PSLV-C58)

5 January 2024 | ISRO Current Affairs

इसरो ने PSLV-C58 मिशन के दौरान POEM3 ऑर्बिटल प्लेटफॉर्म पर 100 W पॉलिमर इलेक्ट्रोलाइट मेम्ब्रेन फ्यूल सेल पावर सिस्टम का परीक्षण किया।

प्रोपल्शन मॉड्यूल सफलतापूर्वक चंद्रमा से पृथ्वी पर स्थानांतरित किया गया (Propulsion Module Successfully Transferred From Moon to Earth)

5 December 2023 | ISRO Current Affairs

इसरो ने प्रणोदन मॉड्यूल को चंद्र कक्षा से पृथ्वी की कक्षा में स्थानांतरित कर दिया। यह प्रयोग इसरो के चंद्रयान-4 मिशन से कहीं ज्यादा महत्वपूर्ण है.

इसरो ने सूर्य का अध्ययन करने के लिए भारत का पहला आदित्य-एल1 मिशन लॉन्च किया (ISRO launches India's first Aditya-L1 Mission to Study the Sun)

2 September 2023 | ISRO Current Affairs

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने भारत का पहला सूर्य मिशन लॉन्च किया। जिसका उद्देश्य सूर्य की क्षमता की जांच करना है।

चंद्रयान 3 मिशन की सॉफ्ट लैंडिंग (Chandrayaan 3 Mission Soft Landing)

23 August 2023 | ISRO Current Affairs

भारत का मिशन चंद्रयान 3 विक्रम लैंडर रोवर के साथ सफलतापूर्वक चंद्रमा पर उतरा, जिसके साथ भारत चंद्रमा पर उतरने वाला चौथा देश बन गया।

लैंडर मॉड्यूल (एलएम) को प्रोपल्शन मॉड्यूल (पीएम) से सफलतापूर्वक अलग किया गया (Lander Module (LM) Successfully Separated from Propulsion Module (PM))

17 August 2023 | ISRO Current Affairs

चंद्रयान-3 ने चंद्रमा की कक्षा में अपना पांचवां और अंतिम चरण सफलतापूर्वक पूरा कर लिया है। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन-इसरो ने चंद्रयान-3 के लैंडर को यान के प्रोपल्शन मॉड्यूल से सफलतापूर्वक अलग कर दिया है।

इसरो ने सिंगापुर के 7 सैटेलाइट लॉन्च किए (ISRO launched 7 satellites of Singapore)

1 August 2023 | ISRO Current Affairs

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) ने श्रीहरिकोटा के सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से सात सिंगापुरी उपग्रहों को ले जाने वाले अपने PSLV-C56 रॉकेट को सफलतापूर्वक लॉन्च किया।

चंद्रयान 3 मिशन सफलतापूर्वक लॉन्च किया गया (Chandrayaan 3 mMission Was Successfully Launched)

14 July 2023 | ISRO Current Affairs

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन-इसरो ने चंद्रयान-3 मिशन सफलतापूर्वक लॉन्च किया। चंद्रयान-3 मिशन चंद्रमा की सतह का पता लगाने के लिए चंद्रमा पर एक रोवर तैनात करने का प्रयास करेगा।

मिशन गगनयान का पहला चरण जीवन रक्षा कौशल अभ्यास पूरा हुआ (First Phase of Mission Gaganyaan Survival Skill Exercise Completed)

3 July 2023 | ISRO Current Affairs

इसरो के मिशन गगनयान की क्रू रिकवरी टीम के पहले बैच ने कोच्चि में भारतीय नौसेना की जल जीवन रक्षा प्रशिक्षण सुविधा में प्रशिक्षण का पहला चरण पूरा किया।

ISRO ने GSLV-F12/NVS-01 नेविगेशन सैटेलाइट लॉन्च किया (ISRO Launches GSLV-F12/NVS-01 Navigation Satellite)

29 May 2023 | ISRO Current Affairs

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) ने क्रायोजेनिक ऊपरी चरण के साथ जियोसिंक्रोनस सैटेलाइट लॉन्च व्हीकल (GSLV) रॉकेट का उपयोग करके दूसरी पीढ़ी के नेविगेशन सैटेलाइट NVS-01 को जियोसिंक्रोनस ट्रांसफर ऑर्बिट में सफलतापूर्वक लॉन्च किया।

ISRO ने TELEOS-2 और PSLV-C55 उपग्रह लॉन्च किए (ISRO launches TELEOS-2 and PSLV-C55 Satellites)

22 April 2023 | ISRO Current Affairs

इसरो, भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन ने 22 अप्रैल को दो उपग्रहों TELEOS-2 और PSLV-C55 को लॉन्च किया। यह प्रक्षेपण श्री हिरकोट स्थित सतीश धवन केंद्र से किया गया, इस प्रक्षेपण को सी-55 मिशन के नाम से भी जाना जाता है।

भारतीय अंतरिक्ष नीति 2023, उद्देश्य और महत्व (Indian Space Policy 2023, Objectives and Significance)

6 April 2023 | ISRO Current Affairs

केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने राष्ट्रीय अंतरिक्ष नीति 2023 को मंजूरी दी। इस नीति का उद्देश्य भारतीय अंतरिक्ष विभाग की भूमिका को बढ़ाना, भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) मिशन की गतिविधियों तथा अनुसंधान, शिक्षा, स्टार्टअप एवं उद्योग की बड़ी भागीदारी को बढ़ावा देना है।

पुन: प्रयोज्य लॉन्च वाहन स्वायत्त लैंडिंग मिशन के बारे में जानकारी और उद्देश्य (Reusable Launch Vehicle Autonomous Landing Mission Information and Objectives )

2 April 2023 | ISRO Current Affairs

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) ने 2 अप्रैल 2023 को कर्नाटक के चित्रदुर्ग में वैमानिकी परीक्षण रेंज (ATR) में पुन: प्रयोज्य लॉन्च वाहन स्वायत्त लैंडिंग मिशन (RLV LEX) पूरा किया|

इसरो ने व्हीकल मार्क-III रॉकेट लॉन्च किया (ISRO launches Vehicle Mark-III rocket)

26 March 2023 | ISRO Current Affairs

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) ने श्रीहरिकोटा के सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से 36 वनवेब उपग्रहों को ले जाने वाला भारत का सबसे बड़ा LVM3 रॉकेट लॉन्च किया।

3 January 2019 | ISRO Current Affairs
इसरो द्वारा 'छात्रों के साथ संवाद' पहल शुरू की गई है जो अंतरिक्ष विज्ञान से संबंधित गतिविधियों में देश भर के युवाओं को शामिल करेगी। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन भारत सरकार की अंतरिक्ष एजेंसी है जिसका मुख्यालय बेंगलुरु शहर में है। इसकी दृष्टि "अंतरिक्ष विज्ञान अनुसंधान और ग्रहों की खोज का पीछा करते हुए राष्ट्रीय विकास के लिए अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी का उपयोग करना" है।

सीई-20 क्रायोजेनिक इंजन परिक्षण 2023 (CE-20 Cryogenic Engine Testing 2023)

1 March 2023 | ISRO Current Affairs

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने सीई-20 क्रायोजेनिक इंजन का उड़ान स्वीकृति परीक्षण सफलतापूर्वक किया है जो देश के तीसरे चंद्र मिशन 'चंद्रयान-3' के लिए रॉकेट को शक्ति प्रदान करेगा।

एसएसएलवी-D2 (SSLV-D2 )

10 February 2023 | ISRO Current Affairs

ISRO ने आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा में सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से तीन उपग्रहों EOS-07, Janus-1 और AzaadiSAT-2 उपग्रहों को 450 किमी की गोलाकार कक्षा में स्थापित करने के लिए लघु उपग्रह प्रक्षेपण वाहन-SSLV-D2 लॉन्च किया।

इसरो (ISRO) (ISRO)

5 January 2023 | ISRO Current Affairs

5 जनवरी को भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने देश में अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी के विकास को बढ़ावा देने के लिए माइक्रोसॉफ्ट के साथ सहयोग की घोषणा की।

17 December 2015 | ISRO Current Affairs
भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) के पोलर सैटेलाइट लॉन्च व्हीकल (PSLV) ने श्रीहरिकोटा के सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से सिंगापुर के 6 उपग्रह लॉन्च किए और उन्हें सफलतापूर्वक कक्षा में स्थापित किया। यह 50वां सफल बड़ा रॉकेट प्रक्षेपण और 32वीं पीएसएलवी उड़ान थी। एक दूसरे से 20 किमी की दूरी बनाए रखते हुए 6 उपग्रहों को एक मिनट से भी कम समय में लॉन्च किया गया।
29 August 2015 | ISRO Current Affairs
भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) के अध्यक्ष ए.एस.किरण कुमार ने कहा है कि इसरो वर्ष 2021 में GSLV-Mk II रॉकेट का उपयोग करके एक अमेरिकी NISAR (NASA-ISRO सिंथेटिक एपर्चर रडार) उपग्रह लॉन्च करेगा, जो ऑन-ऑफ के हिस्से के रूप में होगा। नासा और इसरो के बीच सहयोग जा रहा है।
8 August 2015 | ISRO Current Affairs
भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) की वाणिज्यिक शाखा, एंट्रिक्स कॉर्पोरेशन ने 9 अमेरिकी नैनो/सूक्ष्म उपग्रहों को लॉन्च करने और उन्हें 2016 के अंत तक कक्षा में स्थापित करने के लिए एक समझौता किया है। रिपोर्टों का कहना है कि सूक्ष्म उपग्रहों का वजन 10 किलोग्राम से 100 किलोग्राम के बीच होता है और नैनो उपग्रहों का वजन 1 किलोग्राम से लेकर 10 किलोग्राम तक होता है। इसरो के एक अधिकारी ने कहा कि पीएसएलवी (पोलर सैटेलाइट लॉन्च व्हीकल) रॉकेट की मदद से सितंबर में एक एस्ट्रोसैट उपग्रह लॉन्च करने के लिए पूरी तरह तैयार है।
29 April 2015 | ISRO Current Affairs
भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने एक स्वदेशी क्रायोजेनिक इंजन का सफल परीक्षण किया है, जो चार टन तक के उपग्रहों को भूस्थैतिक कक्षा में स्थापित करने में सक्षम है। यह परीक्षण तमिलनाडु के तिरुनेलवेली जिले में महेंद्रगिरि के लिक्विड प्रोपल्शन सिस्टम्स सेंटर में किया गया था। विक्रम साराभाई स्पेस सेंटर के सूत्रों का कहना है कि परीक्षण शाम 4.30 बजे हुआ और यह 635 सेकंड तक चला.
19 August 2013 | ISRO Current Affairs
इसरो ने जियोसिंक्रोनस उपग्रह प्रक्षेपण यान का प्रक्षेपण स्थगित कर दिया क्योंकि दूसरे चरण के इंजन में ईंधन रिसाव हो गया था। रॉकेट लॉन्च की प्रक्रिया सुचारू रूप से चल रही थी और लॉन्च से 2 घंटे पहले रिसाव देखा गया। यह कहा गया था कि दूसरे चरण में तरल ईंधन, क्रायोजेनिक इंजन और पहले चरण के 4 स्ट्रैप-ऑन मोटर्स की निकासी होगी।
6 May 2013 | ISRO Current Affairs
भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) की 2013 में आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा से कुल पांच रॉकेट लॉन्च करने की योजना है जिसमें इस साल के अंत में मंगल ग्रह के लिए एक मिशन भी शामिल होगा।
29 August 2009 | ISRO Current Affairs
भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन ने घोषणा की है कि चंद्रयान -1, भारत का पहला चंद्रमा मिशन खत्म हो गया है।
25 August 2009 | ISRO Current Affairs
भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन सितंबर में समुद्री जीवन पर नज़र रखने और संभावित मछली पकड़ने के क्षेत्रों की पहचान करने के लिए एक विशेष उपग्रह ओशनसैट -2 लॉन्च करने के लिए पूरी तरह तैयार है।

  Last update :  Tue 28 Jun 2022
  Post Views :  3254