अन्तर्राष्ट्रीय नागरिक विमानन संगठन (ICAO): (International Civil Aviation Organization History, Work and their heads in Hindi)

अन्तर्राष्ट्रीय नागरिक विमानन संगठन:

अन्तर्राष्ट्रीय नागरिक विमानन संगठन (International Civil Aviation Organization), संयुक्त राष्ट्र (United Nation) की एक एजेंसी है, जो कि अन्तर्राष्ट्रीय वायु नौवहन (International Air Shipping) के सिद्धांत और तकनीकों को नियत करती है और अन्तर्राष्ट्रीय वायु यातायात के विकास और योजना का पालन करती है, जिससे कि सुरक्षित और क्रमवार विकास सुनिश्चित हो सके। इसका मुख्यालय कनाडा के मॉन्ट्रियल (Montreal) में क्वार्टियर इंटरनेशनल (International District) में स्थित है। वर्तमान में अल्जीरिया के तैयब शेरिफ अन्तर्राष्ट्रीय नागरिक विमानन संगठन के महासचिव है। विश्वभर में सामाजिक, आर्थिक विकास के लिए नागरिक उड्डयन के महत्व को उजागर करने के उद्देश्य से 07 दिसम्बर को अंतरराष्ट्रीय नागरिक विमानन दिवस मनाया जाता है।

अन्तर्राष्ट्रीय नागरिक विमानन संगठन (ICAO) का इतिहास:

अन्तर्राष्ट्रीय नागरिक विमानन संगठन (International Civil Aviation Organization) की स्थापना 07 दिसंबर, 1944 को शिकागो में हस्ताक्षरित एक संधि के माध्यम से हुई। यह संधि 4 अप्रैल, 1947 से लागू हुई तथा इसने अक्टूबर 1919 में संपन्न वायु यातायात विनियमन समझौते का स्थान ले लिया। आईसीएओ का उद्देश्य हवाई परिचालन एवं यातायात की तकनीकों तथा सिद्धांतों के विकास में अंतरराष्ट्रीय सहयोग को प्रोत्साहित करना है। इस संगठन की सदस्यता 185 है तथा इसका मुख्यालय मॉट्रियल (कनाडा) में है। सभा एवं परिषद इस संगठन के प्रमुख अंग हैं। सभा में सभी सदस्यों का प्रतिनिधित्व होता है तथा इसकी बैठक तीन वर्षों में एक बार होती है। सभा की बैठक में सामान्य नीति का निर्धारण, परिषद के सदस्यों का चुनाव तथा बजट का अनुमोदन किया जाता है। परिषद में कुल 33 सदस्य होते हैं, जो सभा द्वारा त्रि-वर्षीय कार्यकाल हेतु चुने जाते हैं।

अन्तर्राष्ट्रीय नागरिक विमानन संगठन के कार्य:

इस संगठन का कार्य प्रभावी एवं सुरक्षित वायु परिवहन हेतु तकनीकी मानकों की स्थापना द्वारा अंतरराष्ट्रीय नागरिक उड्डयन के क्षेत्र में सहायता प्रदान करना तथा हवाई सीमाओं पर सरल प्रक्रियाओं को प्रोत्साहित करना है। संगठन अंतर्राष्ट्रीय उड़ान हेतु आवश्यक जमीनी सेवाओं एवं सुविधाओं के लिए क्षेत्रीय योजनाएं विकसित करता है, वायु यातायात सांख्यिकी का वितरण करता है, उड्डयन के आर्थिक पक्षों पर अध्ययन तैयार करता है तथा वायु कानून समझौतों के विकास को बढ़ावा देता है। यह विकासशील क्षेत्रों के वायु उड्डयन कार्यक्रमों हेतु तकनीकी सहायता उपलब्ध कराता है। अन्तर्राष्ट्रीय नागरिक विमानन संगठन (ICAO) मौसम विज्ञान, वायु यातायात नियंत्रण, संचार एवं परिवहन सुविधाओं जैसे क्षेत्रों में अंतरराष्ट्रीय कार्यवाही की पहल करने में मुख्य उपकरण की भूमिका निभाता है। वायुयानों का पट्टे या किराये पर लेन-देन, विमान अपहरण के खिलाफ कार्यवाही, वायु सीमा उल्लंघन तथा वायुयानों द्वारा पर्यावरण में पैदा किये जाने वाले शोरगुल का निम्नीकरण इत्यादि क्षेत्रों में आईसीएओ की भागीदारी को देखा जा सकता है अन्तर्राष्ट्रीय नागरिक विमानन संगठन (International Civil Aviation Organization) को अन्तर्राष्ट्रीय वायु यातायात संघ (International Air Transport Association) से अलग समझा जाना चाहिए। यह एक वायुसेवा (एयरलाइन) संचालकों का व्यापार संगठन है, संयोग से जिसका मुख्यालय भी मॉन्ट्रियल (Montreal) में ही स्थित है।

ICAO के क्षेत्र एवं क्षेत्रीय कार्यालय:

आईसीएओ के 07 क्षेत्रीय कार्यालय हैं, जो 09 क्षेत्रों हेतु सेवारत है:

  1. एशिया एवं प्रशांत, बैंकॉक, थाइलैंड
  2. मध्य पूर्व, काहिरा, मिस्र
  3. पश्चिमी एवं मध्य अफ्रीका, डकार, सेनेगल
  4. दक्षिण अमरीका, लीमा, पेरू
  5. उत्तरी अमरीका, मध्य अमरीका एवं कैरिबियन, मेक्सिको शहर, मेक्सिको
  6. पूर्वी एवं दक्षिणी अफ्रीका, नैरोबी, केन्या
  7. यूरोप एवं उत्तरी अटलांटिक, पैरिस, फ्रांस

अन्तर्राष्ट्रीय नागरिक विमानन (ICAO) के महासचिवों की सूची:

परिषद के अध्यक्षों की सूची

अन्तर्राष्ट्रीय नागरिक विमानन (ICAO) के सदस्य: ICAO Members

निम्नलिखित राज्यों को ICAO के 193 सदस्य राज्यों में से 2019 ICAO विधानसभा के दौरान संगठन की 36 सदस्यीय शासी परिषद के लिए चुना गया था। नोट = * का अर्थ है की वे देश जो 2019 में नए शामिल किए गए भाग I - हवाई परिवहन में प्रमुख महत्व के देश ऑस्ट्रेलिया, ब्राजील, कनाडा, चीन, फ्रांस, जर्मनी, इटली, जापान, रूसी संघ, यूनाइटेड किंगडम और संयुक्त राज्य अमेरिका भाग II - अंतरराष्ट्रीय नागरिक हवाई नेविगेशन के लिए सुविधाओं के प्रावधान में सबसे बड़ा योगदान देने वाले देश र्जेंटीना, कोलंबिया, मिस्र, फ़िनलैंड*, भारत, मेक्सिको, नीदरलैंड*, नाइजीरिया, सऊदी अरब, सिंगापुर, दक्षिण अफ्रीका और स्पेन। भाग III -भौगोलिक प्रतिनिधित्व सुनिश्चित करने वाले देश कोस्टा रिका*, कोटे डी आइवर*, डोमिनिकन गणराज्य*, इक्वेटोरियल गिनी*, ग्रीस*, मलेशिया, पराग्वे*, पेरू*, कोरिया गणराज्य, सूडान*, ट्यूनीशिया*, संयुक्त अरब अमीरात, जाम्बिया*

यह भी पढ़ें:

  Last update :  Fri 12 Aug 2022
  Download :  PDF
  Post Views :  10578
अध्यादेश का अर्थ, इतिहास, अवधि व अध्यादेेश जारी करने की शर्तें
कॉलेजियम प्रणाली- भारत में न्‍यायाधीशों की नियुक्ति प्रक्रिया
संयुक्त राष्ट्र संघ की प्रमुख संस्थाएं, उद्देश्य और कार्यक्रम
नाटो क्या है? इतिहास, सदस्य देश, महासचिव और सम्मेलन
दक्षिण एशियाई क्षेत्रीय सहयोग संगठन (सार्क) के महासचिव, उद्देश्य और इतिहास
गुट निरपेक्ष आंदोलन शिखर सम्मेलन की सूची वर्ष 1961 से अब तक
राष्ट्रमंडल: इतिहास, गठन, सदस्य, उद्देश्य और देशों की सूची
विश्व के प्रमुख देशों की संसद के नाम
महाभियोग के बारे में पूरी जानकारी
2019 जी 20 ओसाका शिखर सम्मेलन के बारे में जानकारी: (G20 Osaka Summit 2019)
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री की सूची 1974 से 2023 तक