विश्व पर्यावरण दिवस (05 जून) का इतिहास, महत्व, थीम और अवलोकन

विश्व पर्यावरण दिवस संक्षिप्त तथ्य

कार्यक्रम नामविश्व पर्यावरण दिवस (World Environment Day)
कार्यक्रम दिनांक05 / जून
कार्यक्रम की शुरुआत1974
कार्यक्रम का स्तरअंतरराष्ट्रीय
कार्यक्रम आयोजकसंयुक्त राष्ट्र महासभा

विश्व पर्यावरण दिवस का संक्षिप्त विवरण

विश्व पर्यावरण दिवस (WED) हर साल 5 जून को मनाया जाता है, और पर्यावरण की सुरक्षा के लिए जागरूकता और कार्रवाई को प्रोत्साहित करने के लिए संयुक्त राष्ट्र का प्रमुख वाहन है। 1974 में पहली बार आयोजित किया गया था, यह समुद्री प्रदूषण, मानव अतिवृष्टि और ग्लोबल वार्मिंग से उत्पन्न पर्यावरणीय मुद्दों पर जागरूकता बढ़ाने, टिकाऊ उपभोग और वन्यजीव अपराध के लिए एक प्रमुख अभियान रहा है। विश्व पर्यावरण दिवस सार्वजनिक आउटरीच के लिए एक वैश्विक मंच बन गया है, जिसमें प्रतिवर्ष 143 से अधिक देशों की भागीदारी होती है।

विश्व पर्यावरण दिवस का इतिहास

इस दिवस को मनाने की घोषणा संयुक्त राष्ट्र ने पर्यावरण के प्रति वैश्विक स्तर पर राजनीतिक और सामाजिक जागृति लाने हेतु वर्ष 1972 में की थी। इसे 05 जून से 16 जून तक संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा आयोजित विश्व पर्यावरण सम्मेलन में चर्चा के बाद शुरू किया गया था। 05 जून 1974 को पहला विश्व पर्यावरण दिवस मनाया गया।

इसमें हर साल 143 से अधिक देश हिस्सा लेते हैं और इसमें कई सरकारी, सामाजिक और व्यावसायिक लोग पर्यावरण की सुरक्षा, समस्या आदि विषय पर बात करते हैं। इस दिन लोगों को जागरूक करने के लिए काई प्रकार के कार्यक्रम आयोजित किये जाते हैं जैसे कि पेड लगाना, लोगों को इनकी महत्वता बताना आदि।

विश्व पर्यावरण दिवस विषय (Theme)

  • वर्ष 2022 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - "केवल एक पृथ्वी" (Only One Earth)।
  • वर्ष 2021 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - "पारिस्थितिकी तंत्र की बहाली" (Ecosystem Restoration)।
  • वर्ष 2020 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - "प्रकृति के लिए समय" (Time for Nature)।
  • वर्ष 2019 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - "वायु प्रदूषण को हराना" (Beat Air Pollution)।
  • वर्ष 2018 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - "प्लास्टिक प्रदूषण की समाप्ति" (Beat Plastic Pollution)।
  • वर्ष 2017 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - "कनेक्टिंग पीपुल टू नेचर"।
  • वर्ष 2016 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - "दुनिया को एक बेहतर जगह बनाने के लिए दौड़ में शामिल हों"।
  • वर्ष 2015 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - “एक विश्व, एक पर्यावरण।”
  • वर्ष 2014 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - “छोटे द्वीप विकसित राज्य होते है” या “एसआइडीएस” और “अपनी आवाज उठाओ, ना कि समुद्र स्तर।”
  • वर्ष 2013 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - “सोचो, खाओ, बचाओ” और नारा था “अपने फूडप्रिंट को घटाओ।”
  • वर्ष 2012 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - “हरित अर्थव्यवस्था: क्यो इसने आपको शामिल किया है?”
  • वर्ष 2011 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - “जंगल: प्रकृति आपकी सेवा में।”
  • वर्ष 2010 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - “बहुत सारी प्रजाति। एक ग्रह। एक भविष्य।”
  • वर्ष 2009 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - “आपके ग्रह को आपकी जरुरत है- जलवायु परिवर्तन का विरोध करने के लिये एक होना।”
  • वर्ष 2008 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - “CO2, आदत को लात मारो- एक निम्न कार्बन अर्थव्यवस्था की ओर।”
  • वर्ष 2007 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - “बर्फ का पिघलना- एक गंभीर विषय है?”
  • वर्ष 2006 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - “रेगिस्तान और मरुस्थलीकरण” और नारा था “शुष्क भूमि पर रेगिस्तान मत बनाओ।”
  • वर्ष 2005 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - “हरित शहर” और नारा था “ग्रह के लिये योजना बनाये।”
  • वर्ष 2004 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - “चाहते हैं! समुद्र और महासागर” और नारा था “मृत्यु या जीवित?”
  • वर्ष 2003 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - “जल” और नारा था “2 बिलीयन लोग इसके लिये मर रहें हैं।”
  • वर्ष 2002 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - “पृथ्वी को एक मौका दो।”
  • वर्ष 2001 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - “जीवन की वर्ल्ड वाइड वेब।”
  • वर्ष 2000 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - “पर्यावरण शताब्दी” और नारा था “काम करने का समय।”
  • वर्ष 1999 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - “हमारी पृथ्वी- हमारा भविष्य” और नारा था “इसे बचायें।”
  • वर्ष 1998 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - “पृथ्वी पर जीवन के लिये” और नारा था “अपने सागर को बचायें।”
  • वर्ष 1997 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - “पृथ्वी पर जीवन के लिये।”
  • वर्ष 1996 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - “हमारी पृथ्वी, हमारा आवास, हमारा घर।”
  • वर्ष 1995 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - “हम लोग: वैश्विक पर्यावरण के लिये एक हो।”
  • वर्ष 1994 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - “एक पृथ्वी एक परिवार।”
  • वर्ष 1993 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - “गरीबी और पर्यावरण” और नारा था “दुष्चक्र को तोड़ो।”
  • वर्ष 1992 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - “केवल एक पृथ्वी, ध्यान दें और बाँटें।”
  • वर्ष 1991 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - “जलवायु परिवर्तन। वैश्विक सहयोग के लिये जरुरत।”
  • वर्ष 1990 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - “बच्चे और पर्यावरण।”
  • वर्ष 1989 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - “ग्लोबल वार्मिंग; ग्लोबल वार्मिंग।”
  • वर्ष 1988 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - “जब लोग पर्यावरण को प्रथम स्थान पर रखेंगे, विकास अंत में आयेगा।”
  • वर्ष 1987 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - “पर्यावरण और छत: एक छत से ज्यादा।”
  • वर्ष 1986 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - “शांति के लिये एक पौधा।”
  • वर्ष 1985 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - “युवा: जनसंख्या और पर्यावरण।”
  • वर्ष 1984 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - “मरुस्थलीकरण।”
  • वर्ष 1983 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - “खतरनाक गंदगी को निपटाना और प्रबंधन करना: एसिड की बारिश और ऊर्जा।”
  • वर्ष 1982 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - “स्टॉकहोम (पर्यावरण चिंताओं का पुन:स्थापन) के 10 वर्ष बाद।”
  • वर्ष 1981 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - “जमीन का पानी; मानव खाद्य श्रृंखला में जहरीला रसायन।”
  • वर्ष 1980 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - “नये दशक के लिये एक नयी चुनौती: बिना विनाश के विकास।”
  • वर्ष 1979 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - “हमारे बच्चों के लिये केवल एक भविष्य” और नारा था “बिना विनाश के विकास।”
  • वर्ष 1978 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - “बिना विनाश के विकास।”
  • वर्ष 1977 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - “ओजोन परत पर्यावरण चिंता; भूमि की हानि और मिट्टी का निम्निकरण।”
  • वर्ष 1976 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - “जल: जीवन के लिये एक बड़ा स्रोत।”
  • वर्ष 1975 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - “मानव समझौता।”
  • वर्ष 1974 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - “ "74" के प्रदर्शन के दौरान केवल एक पृथ्वी।”
  • वर्ष 1973 में विश्व पर्यावरण दिवस का विषय (थीम) - “केवल एक पृथ्वी।”

विश्व पर्यावरण दिवस के बारे में अन्य विवरण

पर्यावरण प्रदूषण के प्रकार: आधुनिक युग में पर्यावरण प्रदूषण कई कारणों से फैलता है, जैसे :-

  1. वायु प्रदूषण।
  2. जल का प्रदूषण।
  3. मिट्टी का प्रदूषण।
  4. तापीय प्रदूषण।
  5. विकरणीय प्रदूषण।
  6. औद्योगिक प्रदूषण।
  7. समुद्रीय प्रदूषण।
  8. रेडियोधर्मी प्रदूषण।
  9. नगरीय प्रदूषण।
  10. प्रदूषित नदिया।

जून माह के महत्वपूर्ण दिवस की सूची - (राष्ट्रीय दिवस एवं अंतराष्ट्रीय दिवस):

तिथि दिवस का नाम - उत्सव का स्तर
01 जूनअन्तरराष्ट्रीय बाल रक्षा दिवस, - अन्तरराष्ट्रीय दिवस
01 जून विश्व दुग्ध दिवस - अन्तरराष्ट्रीय दिवस
05 जूनविश्व पर्यावरण दिवस - अन्तरराष्ट्रीय दिवस
08 जूनविश्व महासागर दिवस - अन्तरराष्ट्रीय दिवस
08 जूनविश्व ब्रेन ट्यूमर दिवस - अन्तरराष्ट्रीय दिवस
10 जूनदृष्टिदान संकल्प दिवस - अन्तरराष्ट्रीय दिवस
12 जूनविश्व बालश्रम निषेध दिवस - अन्तरराष्ट्रीय दिवस
14 जूनविश्व रक्तदान दिवस - अन्तरराष्ट्रीय दिवस
17 जूनविश्‍व रेगिस्‍तान तथा सूखा रोकथाम दिवस - अन्तरराष्ट्रीय दिवस
18 जूनअंतर्राष्ट्रीय पिकनिक दिवस - अन्तरराष्ट्रीय दिवस
18 जूनअंतर्राष्ट्रीय पिकनिक दिवस - अन्तरराष्ट्रीय दिवस
19 जूनविश्व एथनिक दिवस - अन्तरराष्ट्रीय दिवस
20 जूनविश्व शरणार्थी (रिफ्यूजी) दिवस - अन्तरराष्ट्रीय दिवस
21 जूनअंतरराष्ट्रीय योग दिवस - अन्तरराष्ट्रीय दिवस
21 जूनविश्व संगीत दिवस - अन्तरराष्ट्रीय दिवस
23 जूनसंयुक्त राष्ट्र लोक सेवा दिवस - अन्तरराष्ट्रीय दिवस
23 जूनअन्तरराष्ट्रीय विधवा दिवस - अन्तरराष्ट्रीय दिवस
26 जूनअन्तरराष्ट्रीय मादक द्रव्य निषेध (नशा मुक्ति/निवारण) दिवस - अन्तरराष्ट्रीय दिवस
तीसरा रविवार जूनफादर्स दिवस - अन्तरराष्ट्रीय दिवस
  Last update :  2022-06-28 11:44:49
  Post Views :  1286