राष्ट्रीय बाल वीरता पुरस्कार 2017 के विजेताओं के नाम और राज्यों की सूची


General Knowledge: 2017 National Bravery Award Winners In Hindi [Post ID: 5542]



राष्ट्रीय वीरता पुरस्कार 2017 विजेताओं की सूची: (2017 National Bravery Award Winners in Hindi)

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 23 जनवरी 2017 को देश के विभिन्न भागों से चुने गए 25 बच्चों को राष्ट्रीय वीरता पुरस्कार प्रदान किए। इन बालकों का चयन भारतीय बाल कल्याण परिषद (आईसीसीडब्ल्यू) ने देश भर से इस सम्मान के लिए किया था। राष्ट्रीय वीरता पुरस्कार योजना की शुरुआत आईसीसीडब्ल्यू ने 1957 में की थी, जिससे उन बच्चों को पहचान दी जा सके जिन्होंने अपने असाधारण वीरता भरे कार्यो और सराहनीय सेवा से खुद को अलग साबित किया है। यह पुरस्कार प्रतिवर्ष 25 भारतीय बच्चों को सभी बाधाओं के खिलाफ बहादुरी के मेहनती कृत्यों के लिए दिया जाता है। इन बच्चों की उम्र 06 साल से लेकर 18 वर्ष के बीच होती है।

राष्ट्रीय वीरता पुरस्कार 2017 विजेताओं की सूची:

  • तुषार वर्मा (छत्तीसगढ़): बापू गायधनी पुरस्कार
  • रोलाहपुई (मिजोरम): बापू गायधनी पुरस्कार
  • लालहरीतपुई (मिजोरम): बापू गायधनी पुरस्कार
  • तार पेजु (अरुणाचल प्रदेश): भारत पुरस्कार
  • तेजस्विद् प्रधान (पश्चिम बंगाल): गीता चोपड़ा पुरस्कार
  • शिवानी गोंड (पश्चिम बंगाल): गीता चोपड़ा पुरस्कार
  • सुमित ममैन (उत्तराखंड): संजय चोपड़ा पुरस्कार
  • नीलम ध्रुव (छत्तीसगढ़)
  • सोनू माली (राजस्थान)
  • मोहन सेठी (ओडिशा)
  • सिया बामंसा खोड
  • थांगलीन मंगळंकीम
  • प्रफुल्ल शर्मा
  • मोइरंगटेम सदानानंद सिंह (मणिपुर)
  • आदित्य पिल्लई (केरल)
  • अंग्शि पांडे (उत्तर प्रदेश)
  • विनिल मंजीली (केरल)
  • अक्षत शर्मा (दिल्ली)
  • अक्षता शर्मा (दिल्ली)
  • अखिल के. सिबू (केरल)
  • नमन (दिल्ली)
  • निशा दिलीप पाटील
  • बदरुणिसा केपी केरल
  • पेल देवी (जम्मू और कश्मीर)

राष्ट्रीय बहादुरी पुरस्कार में पांच श्रेणियां शामिल हैं:

  1. भारत पुरस्कार 1987 से
  2. संजय चोपड़ा पुरस्कार 1978 से
  3. गीता चोपड़ा पुरस्कार 1978 से
  4. बापू गायधनी पुरस्कार 1988 के बाद से
  5. सामान्य राष्ट्रीय बहादुरी पुरस्कार 1957 से

यह भी पढ़े: राष्ट्रीय बाल वीरता पुरस्कार 2018 के विजेताओं की सूची


Download - 2017 National Bravery Award Winners In Hindi PDF, click button below:

Download PDF Now

Like this Article? Subscribe to Our Feed!

Leave a Reply

Your email address will not be published.